Back

सेंटर फॉर सोल-जैल कोटिंग्स

21 वीं सदी की महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों में नैनोप्रौद्योगिकी एक है और सोल - जैल संसाधन भिन्न - भिन्न प्रकार की चालू रसायनिक पद्धतियों में से एक है, जो नैनो - क्रिस्टलाइन या नैनो - पारतीय बेतरतीब सामग्रियों का सृजन कर सकती है | सोल - जैल पद्धति का इतिहास लगभग तीन दशकों जितनी लंबा है, जो हाल ही के समयों के साथ - साथ नॉन - आक्साइडों की तैयारी के आरंभिक दिनों में काँच और सिरैमिक्स सहित आक्साइड सामग्रियों के संसाधन के साथ शुरू हुआ था आर्गेनिक - इनर्गेनिक हाइब्रिड नैनोसंयोजन सामग्रियों के संसाधन में इस तकनीक का प्रयोग अब अनुसंधान का सक्रिय क्षेत्र है | कार्बनिक - अकार्बनिक हाइब्रिड का लाभ यह है कि अकेली सामग्री में कार्बनिक - अकार्बनिक संघटकों के असदृश गुणों के बीच अनुकूल रूप से सहक्रिया ला सकती है | सोल - जैल से प्राप्‍त संकर नैनोकंपोजिट सामग्री संश्लेषण सिलिकॉन या मेटालिक आक्साइडों के साथ कार्बनिक रूप से संशोधित साइलेनो के पोलिकंडेन्सेशन को सम्मिलित करती है | विभिन्न सामग्रियों के रूपों में सोल - जैल संसाधन निम्न के जनन की ओर ले जा सकते हैं:

  • घनी सिरैमिक्स कायाएँ
  • कोटिंग / थिन फिल्म्स
  • एअरोजैल्स
  • अखंडित, और
  • सिरैमिक रेशे

निम्नलिखित लाभों के कारण सोल - जैल प्रक्रिया द्वारा जनित संकर नैनो - संयोजित कोटिंग्स वाणिज्यिक उपयोग के लिए अत्यंत ही लाभदायक पाये गये हैं :

  • पर्यावरण मैत्री
  • नैनो पैमाने पर गुणों को तैयार करने की संभावना
  • बहु - क्रियात्मकता
  • अकार्बनिक नेटवर्क के कारण अच्छे यांत्रिकगुण
  • कार्बनिक मोइटी के कारण कार्बनिक के साथ कोटिंगों की लचकदारिता और संगतता
  • कार्बनिक समूहों की स्वतंत्र रूप से बहुरूपकता के कारण मोटी तहों की संभावना
  • भिन्न - भिन्न स्थानापन्न सामग्रियों पर निक्षेपण की उपयुक्तता जैसे धातुएँ / एसएस, सिरैमिक टाइल्स,काँच, प्लास्टिक्स
  • कम तापक्रम पराबैंगनी / (युवी) / अवरक्तक इन्फ्रारेड के निकट (एनआईआर) की साध्यता
  • रोबाटिक स्वचालन सहित बड़े क्षेत्रों पर निक्षेपण की अधीनता
  • सोल संश्लेषण और कोटिंग निक्षेपण की आरोह्यता / स्केलेबिलिटी

एआरसीआई, हैदराबाद के सेंटर फॉर सोल - जैल कोटिंग्स की स्थापना हाल ही में की गयी और कोटिंग प्रौद्योगिकी के सभी सहबद्ध परिचालनों के पॉयलेट स्केल / अग्रणी पैमाने के प्रदर्शन के लिए स्टेट ऑफ़ दि आर्ट कलात्मक स्थिति की सुविधाओं से लैस है | सेंटर अब विस्तृत क़िस्मों के अनुप्रयोगों के लिए सोल - आधारित नैनो संयोजनों के विकास और प्रदर्शन के लिए कई औद्योगिक भागीदारों के साथ कार्य कर रहा है | इस प्रौद्योगिकी को आगे उन्नत करने के लिए सेंटर मौलिक अनुसंधान कार्य भी कर रहा है | उपरिलिखित सुविधाओं और विभिन्न कार्यात्मकताओं के कारण जिनसे कोटिंग्स हासिल कर सकते है, उन्हें अनुप्रयोगों के विशाल प्रतिबिंब के लिए अपनाया जा सकता है | इसके भीतर कुछ अनुप्रयोग प्रस्तुत किये गये हैं |